Blockquote

Followers

22 March, 2017

मैं फिर से ‘नज़र निल्को की’ ये शीर्षक ले कर आया हूँ

आज कई दिनो बाद फिर यहाँ पर आया हूँ
इतने दिन व्यस्त रहा वो बताने आया हूँ
आप याद किए या न किए हो पर
मैं फिर से नज़र निल्को की ये शीर्षक ले कर आया हूँ
सादर वंदे
एम के पाण्डेय निल्को 

Loading...